कुछ पुराना / Something Old


Amazing words shared by a talented writer.

Kaushal Kishore

नई बात नए अंदाज में
कहीं हम खोते चले गए
एहसास ही नही हो पाया
कब कहां से यहां आ गए

चलो कुछ पुराना करते हैं
फिर खुशियों को बिखेरते हैं
रिश्तों पर पड़ गई धूल को
चलो फिर झाड़ते पोंछते हैं

चलो कुछ पुराना बोलते हैं
दिल के सभी तार खोलते हैं
रुधिर से निकाल निकाल
बातों में मिठास घोलते हैं

चलो कुछ पुराना सोचते हैं
कुछ अच्छा कुछ भला सोचते हैं
सर्वे भवन्तु सुखिनः को मान
सब शिव शिव ही लोचते हैं

चलो कुछ पुराना देते हैं
हंसी खुशी मुस्कान देते हैं
जो कुछ मिला हमें अब तक
उससे ज्यादा वापस देते हैं

चलो नई बातें भूल जाते हैं
दिल को और करीब लाते हैं
चलो धुन पुराना गुनगुनाते हैं
पुरानी दुनिया फिर से बसाते हैं

🔸🔸🔸🔸🔸🔸

Somewhere we lost
amid new things, new styles
and could not even realise
when we reached this point

let’s do something…

View original post 87 more words